Milne Ka Bahaana Lyrics – Mismatched | by Imaad Shah, Samar Grewal

Milne Ka Bahaana Lyrics (मिलने का बहाना in Hindi) by Imaad Shah & Samar Grewal from Mismatched. The artists penned, composed the track.

Milne-Ka-Bahaana-Mismatched-Lyrics
Song Title: Milne Ka Bahaana
Album/Movie: Mismatched (2020)
Singer(s): Imaad Shah, Samar Grewal
Lyrics Writer(s): Imaad Shah, Samar Grewal
Music Director(s): Imaad Shah, Samar Grewal
 

  • English
  • हिंदी
Kya Hai Ye Garmiyan Tere Mere Darmiyan,
Ye Duniya Bas Ghumti Rahe,
Garam Hawaon Mein Jhumti Rahe,

Kal Ne Kaha Tu Karle Barabar,
Na Sun Kisi Ki Na Mother Na Father,
Fast Train Hai Tu Rukegi Seedhi Daadar
Han Mein Ha Milake, Kya Mila Wahan Ko Jaake,

Kya Hai Ye Duriyan,
Par Kya Hai Ye Kahani Adhuri Han,
Is Duniya Mein Hai Bas Char Oar,
Phir Bhi Rahti Hai Seedhi Kuch Toh Hai Jhur,

Kyun Chhoda Yun Adhuri Kahani,
Tum Ho Sukhi Dharti Pe Jaise Pani,
Hai Ye Sukh Ya Dhani,
Dur Se Pas Aye Tere Gaane Gaaye

Han Hai Ye Mausham Suhana,
Bas Dhoond Le Koi Milne Ka Bahana,
Barsat Ki Raton Mein Ruyi Se Badal,
Ho Gaya Akelapan Ab Mere Sath Chal,

Kya Hai Ye Thandi Hawa,
Na Kam Karti Hai Daru Dawa,
Seedha Sadha Sa Hai Ye Bayan,
Asman Ki Taraf Badhata Tapman,

Par Ab Kuch Badal Gayi Hai Fiza,
Sardi Se Garmi Se Sawan Se Khiza,
Hai Ye Taufa Ya Saza, In Nami Ki Raton Mein,
Hai Paheli In Baton Mein,

Han Hai Ye Mausam Suhana,
Bas Dhundh Le Koi Milne Ka Bahana,
Barsat Ki Raton Mein Ruyi Se Badal,
Ho Gaya Akelapan Ab Mere Sath Chal.

MISMATCHED | MILNE KA BAHANA LYRICS IN HINDI

क्या है ये गर्मियां तेरे दरमियान
ये दुनिया बस घूमती रहे
गरम हवाओं में झूमती रहे

कल ने कहा तू करले बराबर
ना सुन किसी की ना मदर ना फादर
फ़ास्ट ट्रैन है तू रुकेगी सीढ़ी दादर
हाँ में हाँ मिलाके क्या मिला वहां को जाके।

कल है ये दूरियां, पर क्या है ये कहाँ अधूरी, हाँ
इस दुनिया में है बस चार ओर
फिर भी रहती है सीधी कुछ तोह है जो

क्यूँ छोड़ आयी हो अधूरी कहाँ
तुम हो सूखी धरती पे जैसे पानी
है ये सुख या धानी,
दूर से पास आये तेरे गाने गाये।

हाँ है ये मौसम सुहाना,
बस ढूंढ ले कोई मिलने का बहाना
बरसात की रातों में रुई से बादल
हो गया अकेलापन अब मेरे साथ चल

क्या है ये ठंडी हवा
ना काम करती है दारू दवा
सीधा साधा सा है ये बयान
आसमान की तरफ बढ़ता तापमान

पर अब कुछ बदल गयी है फ़िज़ा
सर्दी से गर्मी से सावन से खिज़ा
है ये तोहफा या सजा इन नमी की रातों में
है पहेली ये बातों में

हाँ है ये मौसम सुहाना,
बस ढूंढ ले कोई मिलने का बहाना
बरसात की रातों में रुई से बादल
हो गया अकेलापन अब मेरे साथ चल।

Milne Ka Bahaana Music Video